कलेक्टर ने आम नागरिकों को अपने घर एवं परिसर के आस-पास साफ-सफाई बनाये रखने, की अपील, मच्छरदानी का प्रयोग करने दी सलाह

0
286

*कलेक्टर ने आम नागरिकों को अपने घर एवं परिसर के आस-पास साफ-सफाई बनाये रखने, की अपील..* *मच्छरदानी का प्रयोग करने दी सलाह

*इंडियन टीवी न्यूज़ चैनल से*

*ब्यूरो चीफ-लखन ठाकुर , रिपोर्ट सुनील पटेल जिला दमोह. मध्य प्रदेश*

दमोह, मातृ-स्वास्थ्य, टीकाकरण, टी.बी. एवं नीति आयोग से जुडे़ घटकों की कलेक्टर एस.कृष्ण चैतन्य ने समीक्षा करते हुये कहा शत प्रतिशत लक्ष्यों की पूर्ति सुनिश्चित की जाये। इस दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी और समस्त सी.बी.एम.ओ. मौजूद रहे। कलेक्टर एस कृष्ण चैतन्य ने कहा डिस्ट्रिक हॉस्पिटल में मुख्यतया कोविड वैक्सीनेशन एवं ब्लॉकवार प्रगति तथा रूटीन इम्यूनाईजेशन ब्लॉक वाइज प्रगति, कुपोषण, टीव्ही अन्य वायरल बीमारियों, साथ ही किस-किस क्षेत्र में इंटरवेशन की जरूरत है, खासकर सर्तकता बरतने की जरूरत हैं, किस किस तरह की डॉक्टरों की लगातार काम करने की जरूरत है, यह सब चीजें बैठक में चर्चा की गई हैं। श्री चैतन्य ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया है कि जितने लोग और पात्रता रखते हैं, सभी लोगों को वैक्सीनेशन सेंटर के बारे में अवगत कराएं और लोगों को वैक्सीनेशन करवाने के लिए प्रेरित करने के निर्देश दिये हैं।

उन्होंने कहा जिले में कहीं पर भी डेंगू के केस है तो उनको तुरंत सेंपलिंग करने, टेस्ट रिजल्ट लेने और उनको आइसोलेट करने उक्त वार्ड को प्रोटोकॉल के तहत सफाई करने का और वहां पर दवा छिड़काव तथा बाकी लोगों को अवगत कराने जो भी हम लोगों की स्टैंडर्ड प्रोटोकॉल होता है, उसके तहत लगातार कार्रवाई करने के निर्देश दिये । अभी तक जिले में लगभग 76 केसेस परसों तक पॉजिटिव आने की रिपोर्ट आई हुई है, लगातार केसेस देखने को मिल रहे हैं। कलेक्टर श्री चैतन्य ने सभी जिलेवासियों से आग्रह करते हुये कहा लोग कहीं पर भी पानी भराव होने से बचे, एयर कूलर, टायर, ट्यूब, छत आदि जिसमें पानी भरता हैं, जहां पर पानी भरके रहने की कोई आशंका है, उसको लगातार साफ करें, ताकि मच्छर ना पनपे, वायरल बीमारियों का सीजन चल रहा है, उससे बचे, किसी को भी कोई भी लक्ष्ण दिखते हैं तो तुरंत अपने आपको आईसोलेट करके जाँच करवाये एवं नजदीकि अस्पताल में उपचार लेवे।

कलेक्टर एस.कृष्ण चैतन्य ने पोर्टल में उपलब्धि दर्ज न होने पर अप्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंनेअनमोल पोर्टल में ए.एन.एम. द्वारा दी गई सेवा के अनुरूप प्रगति पर निगाह रखने के निर्देश सी.बी.एम.ओ. को दिये। चर्चा दौरान कहा कि कार्य न करने वाली अथवा शत प्रतिशत डाटा इंद्राज न करने वाली ए.एन.एम. पर अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाये। उन्होंने परिवार कल्याण कार्यक्रम के तहत स्थाई एवं अस्थाई सेवा प्रदायगी को बढ़ाने के निर्देश कार्यक्रमअधिकारी को दिये। उन्होंने कहा महिला नसबंदी आपरेशन की अपेक्षा एन.एस.व्ही.टी.(पुरूष नसबंदी) ज्यादा आसान एवं सुरक्षित तरीका है इसका प्रचार-प्रसार कर अधिकाधिक हितग्राहियों को सेवा प्रदायगी सुनिश्चित की जाये।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. संगीता त्रिवेदी ने मातृ-शिशु स्वास्थ्य के अलावा राष्ट्रीय कार्यक्रम टी.बी., कुष्ठ, अंधत्व निवारण कार्यक्रम की प्रगति पर पावर पाइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से माह दौरान कार्यक्रम के तहत अर्जित उपलब्धि से अवगत कराया। सर्तक रहे, सुरक्षित रहें। इस दौरान जिला मलेरिया अधिकारी ने अवगत कराया डेंगू के 76 केस संज्ञान में आये है। अभी 11 अक्टूबर को 08 डेंगू पॉजीटिव केस का मामला सामने आया है, जिसमें 03 पथरिया एवं 05 अर्बन दमोह के है। दल द्वारा डेंगू नियंत्रण से जुड़ी समुचित कार्यवाही की जा रही है। कलेक्टर ने आम नागरिकों को अपने घर एवं परिसर के आस-पास साफ-सफाई बनाये रखने, एकत्र पानी को ढक कर रखने के साथ ही मच्छरदानी का उपयोग करने की सलाह दी।

*ब्यूरो रिपोर्ट – लखन ठाकुर , रिपोर्टर , सुनील पटेल जिला दमोह मध्य प्रदेश*

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here