छपारा नगर परिषद में शुक्रवार को 2 घंटे थाने में हुआ हंगामा मृतक शिक्षक के स्वजनों ने थाने का किया घेराव।

0
353

जिला-सिवनी ब्यूरो चीफ
अनिल दिनेशवर

छपारा नगर परिषद में शुक्रवार को 2 घंटे थाने में हुआ हंगामा मृतक शिक्षक के स्वजनों ने थाने का किया घेराव,
शिक्षक की मौत होने की आशंका पर शुक्रवार को दोपहर लगभग 1:00 बजे मृतक के स्वजन शव लेकर छपारा थाना पहुंच गए। समय में एफआईआर दर्ज नहीं करने व कार्यवाही ना करने का आरोप पुलिस पर लगाते हुए जमकर हंगामा किया गया। 3 घंटे तक मृतक के शव को थाने में रख परिजनों व ग्रामीणों ने हंगामा किया। लखनादौन एसडीओपी व थाना प्रभारी के आश्वासन के बाद आक्रोशित स्वजन शांत हुए।

जानकारी के मुताबिक छपारा निवासी सुकरी प्राइमरी व मिडिल स्कूल के हेड मास्टर जमुना पिता सीताराम साहू (50) गुरुवार शाम लगभग 6:30 बजे बाइक से छपारा की ओर आ रहे थे। इसी बीच चमारी क्षेत्र के मड़वा गांव में पुलिया के पास उनकी टक्कर पैदल चल रहे दिव्यांग मिथिलेश कुमार डेहरिया से हो गई। घटना में घायल शिक्षक को स्वजन छपारा अस्पताल ले गए यहां से निजी एंबुलेंस से जब वह घायल शिक्षक को लेकर जिला अस्पताल जा रहे थे तभी रात करीब 10:30 बजे रास्ते में ही शिक्षक ने दम तोड़ दिया।
शुक्रवार को जिला अस्पताल से स्वजन शिक्षक के शव को लेकर दोपहर लगभग 1 बजे छपारा थाना पहुंच गए। यहां उन्होंने शिक्षक के साथ मारपीट होने की बात कहते हुए कार्यवाही की मांग की स्वजनों ने आरोप लगाते हुए कहा कि मड़वा गांव के ग्रामीणों ने शिक्षक जमुना साहू के साथ मारपीट की है इसके कारण उनकी मौत हो गई है।

मृतक के पुत्र धर्मेंद्र साहू का कहना था कि घटना के बाद गुरुवार रात छपारा थाना पहुंचने के बाद भी उनकी रिपोर्ट नहीं लिखी गई और ना ही मारपीट करने वाले दोषी के खिलाफ कार्यवाही की गई इस मामले में उन्होंने छपारा थाने में पदस्थ एसआई संजय ठाकुर पर करवाई की मांग की साथ ही शिक्षक के शव का दोबारा पोस्टमार्टम कराने की बात कही
छपारा थाना में बढ़ते हंगामे को देख लगभग 3:00 बजे लखनादौन एमपी केके अवस्थी पहुंचे उन्होंने छपारा थाना प्रभारी अभिषेक चौधरी के साथ मिलकर आक्रोशित 100 जनों व ग्रामीणों को समझाई दी साथ ही कार्रवाई का आश्वासन दिया इसके बाद दोपहर लगभग 3:30 बजे स्वजन शिक्षक के शव को अंतिम संस्कार के लिए ले गए।

इस मामले में केके अवस्थी एसडीओपी लखनादौन का कहना है की मारपीट की आशंका से मृतक शिक्षक के स्वजनों ने छपारा थाना में शव रखकर हंगामा किया। जांच का आश्वासन दिया गया है। जल्द ही इसमें गांव के लोगों के बयान लिए जाएंगे। कार्रवाई के आश्वासन पर स्वजन शांत हो गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here