नौगाँव। हिन्दू मुस्लिम एकता के प्रतीक बाबा गुलाबशाह का 55 वां उर्स शुरू

0
314

हिन्दू मुस्लिम एकता के प्रतीक बाबा गुलाबशाह का 55 वां उर्स शुरू

 

नौगाँव। नगर सहित समूचे बुंदेलखंड की एक मात्र ऐसी दरगाह जहाँ पर हिन्दू मुस्लिम सिख ईसाई एक साथ मिलकर बाबा की छत के नीचे दरगाह पर आते है और अपनी अपनी मन की मुरादे पूरी पाते है हजरत गुलाबशाह बाबा का 55 वां उर्स शुक्रवार की सुबह 8 बजे के लगभग बाबा की दरगाह पर संदल ग़ुस्ल ग़ुस्ल के बाद बाबा के चाहने वालों ने सलाम पेश कर दरगाह पर चादर फूल पेश किये व दुआ मांगी इसके बाद बाबा की महफ़िल में अदवी कब्बालियो का प्रोग्राम शुरू हुआ ,दोपहर 12 बजे से लंगर का प्रोग्राम,शाम 4 बजे बाबा को चादर पेश की गई इसके अलावा बाबा के एक सप्ताह चलने वाले उर्स में कब्बालियो लंगर और चादरों का शिलशिला बाबा के दरवार में पूरे एक सप्ताह चलेगा बाबा के उर्स के समय दरगाह के बाहर मेले का भी आयोजन किया गया जिसमें खेल खिलौने ,चूड़ी कँगन ,झूले ,चाट आइसक्रीम की दुकाने लगाई गई बाबा के चाहने वाले दूर दराज मऊरानीपुर ,झाँसी ,ग्वालियर, आगरा, बोम्बे, राजस्थान, दिल्ली, कानपुर,लखनऊ, महोबा, बाँदा, पन्ना ,सतना ,सागर,दमोह,रीवा से आते है और अपनी मन की मुरादे पाते है गौरतलब है की कोरोना काल के चलते बाबा गुलाबशाह का 54 वां उर्स बाबा के चाहने बालों ने कोरोना गाइड लाइन का पालन करते हुए बड़ी ही सादगी से मनाया था इस वर्ष बाबा के चाहने वालों में भारी उत्साह देखने को मिल रहा है

 

बताया जाता है कि बाबा गुलाबशाह के गुरु नागपुर वाले ताजुद्दीन बाबा है बाबा गुलाबशाह नौगाँव के निवासी है और छोटी सी उमर में ही आप नागपुर बाबा ताजुद्दीन के पास चले गए थे जब वह लौट कर आये तो आप गाने बजाने के शौकीन थे और अपनी मस्ती ओर भक्ति में मस्त रहते थे बाबा दुनिया से रुख्सत होने से पहले ही अपनी मजार तैयार करवा ली थी इस दरगाह के अंदर समस्त धर्मों की तस्वीरें लगी हुई है और बाबा की मजार के सिरहाने पर भगवान कृष्ण की प्रतिमा बनी हुई है बताया जाता है कि जो भी बाबा के पास आता था और वह जिस रूप में बाबा को देखना चाहता था और बाबा उसे उसी रूप में दर्शन दे देते थे बाबा के चाहने वालो का ताता उर्स के अलावा पूरे साल लगा रहता है बाबा की छब्बीसवी मुबारक भी बड़ी धूम धाम से बाबा के चाहने वाले दरगाह पर हर माह मनाते है जो भी बाबा के दर पर आता है वह खाली हाथ नही जाता गुलाबशाह बाबा को उनके चाहने वाले बंशी वाले के नाम से भी जानते है

उमंग शिवहरे
इंडियन टीवी न्यूज ,नौगांव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here