संसार का सबसे बड़ा धनवान वह हैं जिसके पास संतोष हैं। पं. श्री नवीन आचार्य जी महाराज।

0
194

संसार का सबसे बड़ा धनवान वह हैं जिसके पास संतोष हैं। पं. श्री नवीन आचार्य जी महाराज

कथा व्यास नवीन आचार्य जी ने कहा कि संसार का सबसे धनवान व्यक्ति वह है जिसके पास संतोष है जिसकी इच्छाएं सीमित हैं जितना उसके पास हैं वह उतने में खुश हैं, प्रसन्न हैं, वही संसार का सबसे धनी व्यक्ति हैं। रुपए धन दौलत होना धनवान नहीं होता यह मोह माया तो इसी सृष्टि में रह जाएगी सुदामा के चरित्र वर्णन समर्पण, त्याग का वर्णन करते हुए कहा कि सुदामा बहुत खुशनसीब था जिसे भगवान की भक्ति, मित्रता प्राप्त हुई सुदामा जैसा भाग्यशाली कोई नहीं हैं। सुदामा त्रिकालदर्शी ब्राह्मण था उन्हें पता था कि यह श्रापित चने है और अगर यह कन्हैया खाएगा तो उसे श्राप बस दरिद्रता झेलनी पड़ेगी और संसार का भरण पोषण करने वाला ही अगर दरिद्र हो जाएगा तो पूरा विश्व दरिद्र हो जाएगा। इसीलिए कन्हैया को बिना भोग लगाए ही सभी सुदामा ने वह श्रापित चने खाए थे जिसके कारण सुदामा को दरिद्रता का सामना करना पड़ा।

थाना प्रांगण बांदरी में सुबह से ही भक्तों का तांता दर्शन करने लगा रहता हैं, माता रानी की विशेष झांकी कमेटी द्वारा सजाई जाती हैं, माता रानी का श्रृंगार हर दिन भावना देवेन्द्र यादव द्वारा किया जाता हैं जिससे माता की झाँकी आकर्षण का केंद्र बनी हुई हैं।

बांदरी नगर के साथ-साथ आसपास के क्षेत्र के लोग भी दर्शन करने के लिए थाना प्रांगण बांदरी में रखी सार्वजनिक नव दुर्गा उत्सव समिति की झांकी को देखने के लिए श्रद्धालु बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं।

देवी पंडालों में बड़ी संख्या में भक्तगण दर्शन करने के लिए पहुंच रहे हैं, सुबह चार बजे से ही भक्त जल चढ़ाने के लिए बड़ी संख्या में पहुँचते हैं और यह सिलसिला सुबह चार से नौ बजे तक चलता रहता हैं।

नगर परिषद बांदरी की मुख्य प्रतिमा थाना प्रांगण बांदरी में स्थापित की जाती है पिछले 48 वर्षों से लगातार माता यहां पर विराजमान होती आ रही हैं, सार्वजनिक नव दुर्गा उत्सव समिति थाना प्रांगण बांदरी के तत्वाधान में पिछले 10 वर्षों से लगातार संगीतमय भागवत कथा का आयोजन भी किया जाता हैं।

कथा व्यास पंडित श्री नवीन आचार्य जी महाराज के मुखारविंद से संपन्न होती है संगीतमय भागवत कथा के सप्तम दिवस समापन में बड़ी संख्या में श्रद्धालु भागवत कथा सुनने के लिए उपस्थित हुए। दशहरे के दिन कमेटी के सभी सदस्यों ने हवन पूजन कर माता की विशेष पूजा अर्चना की और गाजे-बाजी के साथ माता का विसर्जन किया एवं माता रानी से सभी ने मनोकामनां कि हम और हमारे परिवार एवं हमारे क्षेत्रवासियों पर अपनी कृपा सदा बनाए रखना।

सार्वजनिक नव दुर्गा उत्सव समिति में पंडित श्री धन प्रसाद शास्त्री, रुपेश तिवारी, निशांत मिश्रा, राजकुमार दांगी, वीरेंद्र सिंह ठाकुर, आनंद रजक, धर्मेंद्र रैकवार, नंदकिशोर सोनी, महेंद्र लोधी, रविन्द्र दांगी, अरविंद लोधी, छोटू दांगी, प्रशांत रैकवार, अनिल सैन, विवेक रैकवार, राहुल शर्मा, छोटू भट्ट, प्रभुदयाल सैनी एवं थाना प्रभारी एवं समस्त पुलिस स्टाप, ग्राम और नगर परिषद का विशेष योगदान रहता हैं।

शहजाद खान की रिपोर्ट बाँदरी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here