सेना सम्मान के साथ शहीद सारज सिंह का हुआ अंतिम संस्कार, कैबिनेट मंत्री समेत राजनेताओ ने अर्पित की श्रद्धाजंलि।

0
281

 

स्लग। सेना सम्मान के साथ शहीद सारज सिंह का हुआ अंतिम संस्कार, कैबिनेट मंत्री समेत राजनेताओ ने अर्पित की श्रद्धाजंलि।

एंकर। यूपी के शाहजहांपुर में शहीद सारज सिंह का सेना सम्मान के साथ आज अंतिम संस्कार हुआ। शाहजहांपुर के बण्डा थाना क्षेत्र के अख्तियारपुर गांव में शहीद सारज सिंह के पार्थिक शरीर का सेना सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान कैबिनेट मंत्री सुरेश कुमार खन्ना दर्जा राज्य मंत्री मिथलेश कुमार सपा जिलाध्यक्ष तनवीर खां सपा एमएलसी अमित यादव उर्फ रिंकू पूर्व प्रदेश सचिव सपा उपेंद्र पाल क्षेत्रीय विधायक चेतराम, तिलहर विधायक रोशन लाल वर्मा कैंट बोर्ड के उपाध्यक्ष अवधेश दीक्षित समेत हजारों लोग शहीद सारज सिंह को श्रद्धा सुमन अर्पित करने पहुँचे। इस दौरान शहीद सारज सिंह के स्कूल के गुरु सुभाष चंद्र बोस ने शोक संवेदनाएं वक्त करते हुए उनकी शिक्षा पर प्रकाश डाला और श्रद्धा सुमन अर्पित किए। डॉ संजय अवस्थी ने कहा कि शहीद सारज सिंह की शहादत का बदला लिया जाएगा। गांव के युवाओं ने आर्मी में जाकर शहीद सारज सिंह की शहादत का बदला लेने की कसम खाई है। इस साथ ही शाहिद के परिवार के हरकमल सिंह ने कहा कि गांव में कच्ची सड़क का नामकरण शहीद के नाम से रखने की मांग की है। इसके साथ ही गांव में आर्मी में जाने के लिए अभ्यास करने ग्राउंड बनवाने की मांग की है। आपको बतादे कि इस पीलीभीत के निवासी महिपाल सिंह गंगवार भी श्रद्धा सुमन अर्पित करने शहीद के गांव पहुँचे। उन्होंने बताया कि उनका बेटा आर्मी में मेजर है। उन्होंने कहा कि देश के लिए शहीद हुए सारज सिंह के बलिदान को भुलाया नही जा सकता है। शाहिद के गांव में कई लोग आर्मी में है लेकिन गांव के युवाओं के लिए आर्मी में जाने के संसाधन उपलब्ध नही है। शाहिद सारज सिंह को सच्ची श्रद्धांजलि यही होगी कि उनके गांव में संसाधनों को उपलब्ध कराया जाए। इस दौरान कैबिनेट मंत्री सुरेश कुमार ने श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए सरकार से हर सम्भव मदद का भरोसा दिलाया और कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीद के परिवार को 50 लाख रुपये की आर्थिक मदद और परिवार को सरकारी नौकरी देने और जिले में एक सड़क का नामकरण शहीद के नाम से करने की घोषणा की है।

बाइट। सुरेश कुमार खन्ना कैबिनेट मंत्री यूपी सरकार
बाइट। शहीद के गुरुजन और परिजनों की मांग

शाहजहांपुर से ब्यूरो रिपोर्ट गुलशन तिवारी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here