सड़कों पर आवारा घूम रहे गौवंशो को गौशाला में शिफ्ट कराने, स्टाप डेम के गेट बन्द कराने व स्कूल न खुलने पर जानकारी देने के कलेक्टर ने दिए निर्देष।

0
137

सड़कों पर आवारा घूम रहे गौवंशो को गौशाला में शिफ्ट कराने, स्टाप डेम के गेट बन्द कराने व स्कूल न खुलने पर जानकारी देने के कलेक्टर ने दिए निर्देष।

दमोह – आज कलेक्टर एस कृष्ण चैतन्य ने कहा है समय से स्कूल ना खुले या कोई शिक्षक समय से स्कूल ना पहुँचे, तो इसकी जानकारी जिला प्रशासन को दी सकती हैं। प्रत्येक मंगलवार को मेडीकल बोर्ड की बैठक होती हैं, सभी सीईओ जनपद पंचायत सुनिश्चित करें कि उनके क्षेत्र का कोई भी दिव्यांगजन पात्रता रखता हो और उसके पास प्रमाण पत्र ना हो जिसके कारण वह लाभ से वंचित है ऐसे दिव्यांगजन को लाभ दिलाना सुनिश्चित किया जाए। इस आशय के निर्देश कलेक्टर एस कृष्ण चैतन्य ने ग्रामीण और नगरीय निकायों के अधिकारियों को दिए। उन्होंने पेंशन सत्यापन के शेष कार्य को दी गई समय-सीमा मे पूर्ण करने के निर्देश दिए। कलेक्टर चैतन्य आज साप्ताहिक समय-सीमा बैठक में दिशा-निर्देश दे रहे थे। इस अवसर पर एडीशनल कलेक्टर नाथूराम गौंड़, एसडीएम अविनाश रावत, डिप्टी कलेक्टर अदिति यादव सहित जिला अधिकारी मौजूद रहे।

कलेक्टर ने जिले के सभी नदी नालों के स्टाप डैम में गेट लगाए जाने की जानकारी लेते हुए आमजनों से कहा है कि जिन नदी-नालों में वाटर फ्लो ज्यादा है उनको छोड़कर गेट ना लगे होने पर जिला प्रशासन को जानकारी दे सकते हैं। उन्होंने कहा है कि जानकारी फोटो सहित दी जाए, समीक्षा के दौरान कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा ने बताया कि 830 गेट लगा दिए गये हैं। इसी प्रकार जल संसाधन विभाग द्वारा उनके द्वारा लगाए गये गेटो की जानकारी दी। कलेक्टर चैतन्य ने राजस्व अधिकारियों से कहा कि लोक सेवा के प्रकरण चैक करलें और उनका निराकरण कर लिया जाए, पेंडेन्सी ना रहे। पेंशन प्रकरण पेंडिग ना रहे।

बैठक में शासकीय अधिकारी – कर्मचारियों के पेंशन प्रकरण के सबंध में कलेक्टर चैतन्य ने तहसीलवार, विभागवार, जनपदवार समीक्षा करते हुए अधिकारियों से कहा कि तय समय-सीमा के भीतर सभी लंबित प्रकरण निराकृत सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा आगामी बैठक में पुन: समीक्षा की जायेगी। राजस्व वसूली की जाए। कलेक्टर ने राजस्व्अधिकारियों से कहा है कि सभी तरह की राजस्व वसूलिया लगातार की जाए। साथ ही कहा कि कोई भी शासकीय भूमि पर अतिक्रमण ना हो, सुनिश्चित करें। पटाखों की दूकानों में सैफ्टी नियमो का पालन हो। बैठक के दौरान पटाखों की दूकानों के सबंध मे चर्चा करते हुए । कलेक्टर चैतन्य ने कहा दूकानों पर सैफ्टी नियमों, सावधानी और निर्देशों का पालन सुनिश्चित कराया जाये। गौशालाओं की एसडीएम रिपोर्ट दे। कलेक्टर चैतन्य ने सड़कों में आवारा गौवंश पर नियत्रंण हेतु नगरीय और ग्रामीण निकाय के अधिकारियों से कहा है कि सड़को पर बैठने वाले आवारा गौंवश को संचालित गौशालाओं में भेजा जाए। उन्होंने सभी एसडीएम से कहा कि गौशालाओं के सबंध में वांछित रिपोर्ट शीघ्र भेजी जाए।

*ब्यूरो चीफ-लखन ठाकुर,, रिपोर्ट- सुनील पटेल जिला दमोह मध्य प्रदेश*

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here