ग़ाज़ीपुर । रेवतीपुर ब्लाक क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम एवं अन्य गांव में पशु चिकित्साधिकारी द्वारा गठित की गई टीम पशुओं की होगी देखभाल

0
197

ग़ाज़ीपुर । रेवतीपुर ब्लाक क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम सुहवल ,सोनवल, रमवल, सुगवलिया अन्य गांवों में पशु चिकित्साधिकारी द्वारा गठित तीन सदस्यीय पशु चिकित्सकों की टीम ने शुक्रवार को डोर-टू-डोर जाकर पशुपालकों से इस बाबत जानकारी ली। कुल 172 पशुओं जिनमें 29 बकरी, 9 गाय शेष 134 भैसों की जांच करने के साथ ही उनके पशुपालकों को बोरिक एसिड, मैगसल्फ, एलबेंडाजोल के साथ ही उन्हें द्वारा मैक्टीन का इंजेक्शन भी लगाया। गंभीर रूप से बीमारी से ग्रस्त 30 विभिन्न पशुओं के ब्लड के सैंपल वायल में लेकर उन्हें सील कर जांच के लिए भेज दिया गया।
चिकित्सकों ने पशुपालकों से आह्वान किया कि किसी तरह की बीमारी होने की आशंका के दृष्टिगत सरकारी पशु अस्पताल से चिकित्सकों की सलाह एवं जांच के बाद ही अपने पशुओं को दवा आदि दें। पशुओं को साफ-सुथरी स्थानों पर रखें। उन्हें ताजा चारे खिलाने के अलावा बाहर खुली जगहों पर जानवरों के चारा खाते समय यह ध्यान देना होगा कि वह कोई जहरीली घास या वर्जित चारा न खाने पाएं। इस अवसर पर डा. आर पी सिंह, डा. सतेंद्र सिंह, डा. संतोष पासवान, डा. शशिभूषण, डॉ.सत्यप्रकाश सिंह कुशवाहा, अंकित, रामभरोस मौजूद थे। इस संबंध में मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. शिवकुमार रावत ने बताया कि गठित टीम द्वारा बीमारी से ग्रस्त गांवों में डोर-टू-डोर जाकर पशुओं का इलाज, दवा वितरण किया गया। तीस पशुओं के ब्लड सैंपल के रूप में जांच के लिए मथुरा-बरेली पशु मेडिकल कालेज एवं पशु लैब में भेजा जा रहा है ताकि बीमारी के वास्तविक कारणों का पता लगाया जा सके।

जाशवन्त कुशवाहा की रिपोर्ट इंडियन टी०वी० ग़ाज़ीपुर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here