खेल भी शिक्षा का ही एक अंग है:- ओमप्रकाश जयसवाल*

0
57

*खेल भी शिक्षा का ही एक अंग है:- ओमप्रकाश जयसवाल*

 

 

 

 

घुघली:- ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि ओम प्रकाश जायसवाल ने मंगलपुर पटखौली में बाल दिवस के अवसर पर भारतीय सेना दौड़ 5 किलोमीटर दौड़ प्रतियोगिता का फीता काटकर शुभारंभ किया।साथ में ,प्रथम , द्वितीय ,व तृतीय पुरस्कार, विजेता प्रतिभागियों को मेडल व चेक दे कर पुरस्कृत किया ।

दौड़ प्रतियोगिता का उद्घाटन करने के उपरांत कहा कि मनुष्य के व्यक्तित्व के निर्माण के लिए उत्तम तथा लक्ष्यपूर्ण शिक्षा प्राप्त होना जरूरी है। खेल भी शिक्षा का ही एक अंग है। कहावत प्रसिद्ध है कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क होता है। खेल मनुष्य को शारीरिक तथा मानसिक रूप से स्वस्थ बनाते हैं।

 

 

 

 

 ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि ओमप्रकाश जायसवाल ने कहा कि नियमित रूप से कोई खेल खेलने से चित्त प्रसन्न रहता है तथा शरीर स्वस्थ और फुर्तीला रहता है। खेलों में शारीरिक अंगों का ठीक तरह विकास होता है। मन में उल्लास और उत्साह रहने से मनुष्य को जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में सफलता प्राप्त होती है।इसके पूर्व आयोजको ने मुख्य अतिथि का माला पहनाकर स्वागत किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here