दिल्ली के मुखर्जी नगर में शूट होगी विक्रांत मैसी की अपकमिंग फिल्म,स्टूडेंट की स्ट्रगल पर बेस्ड होगी स्टोरी

0
12
Vikrant Massey

बॉलीवुड के दिग्गज कलाकारों में से एक कहे जाने वाले विक्रांत मैसी जो अपनी पर्सनालिटी सहित अपनी एक्टिंग से लोगों को दीवाना बना देते हैं। ये तो हम सभी जानते हैं की विक्रांत ने इंडस्ट्री में हर जॉनर की फिल्मों में अपना बेस्ट किरदार निभाया हैं। ऐसे में विक्रांत अब एक और धमाकेदार फिल्म की तैयारी शुरू कर दिए हैं। जिसे दिल्ली के मुखर्जी नगर में शूट किया जाएगा। दरअसल दिल्ली के मुखर्जी नगर का नाम सुनते ही उन हजारों,लाखों की संख्या में अपना घर छोड़ कर आँखों में सपना लिए स्ट्रगल करने वाले उन तमाम स्टूडेंट्स का चेहरा सामने आ जाता हैं। जो हर दिन यहीं कोशिश करते हैं की बस उनका आईएएस, आईपीएस बनने का सपना साकार हो जाए। ऐसे में अब इसी स्ट्रगल की स्टोरी हिंदी सिनेमा को कई वजनदार और सफल फिल्में देने वाले निर्माता-निर्देशक विधु विनोद चोपड़ा अब एक ऐसी फिल्म लेकर आ रहे हैं, जो शिक्षा प्रणाली के एक अलग पहलू को दिखाती है। फिल्म का शीर्षक है 12वीं फेल। फिल्म का निर्देशन विधु ही कर रहे हैं। यह फिल्म अनुराग पाठक के इसी शीर्षक से आये बेस्ट सेलिंग नॉवेल पर आधारित है। फिल्म में आईपीएस और आइआरएस अधिकारी बनने के लिए विद्यार्थियों की तैयारी और संघर्षों को दिखाया गया है। 12वीं फेल आइपीएस अधिकारी मनोज कुमार शर्मा और आइआरएस अधिकारी श्रद्धा जोशी के जीवनकी घटनाओं से प्रेरित कहानी है। हालांकि, उनकी बायोपिक नहीं है। इस फिल्म में विक्रांत मैसी मुख्य भूमिका में नजर आने वाले हैं। वही फिल्म के अनुभव को साझा करते हुए विक्रांत ने कहा की ये फिल्म उन सारे स्ट्रगलिंग स्टूंडेंट और सपने देखने वाले सभी विद्यार्थियों और ईमानदार अफसरों को समर्पित है। साथ ही एक्टर ने कहा की ये मूवी मेरे लिए बेहद ही खास हैं। और इससे मुझे खुद भी बहुत कुछ सिखने को मिलेगा। और एक तरह से ये मेरे सपनों को सच कर देने जैसा हैं। फिल्म को लेकर विधु विनोद चोपड़ा ने कहा कि 12वीं फेल उन सभी लोगों के लिए एक ट्रिब्यूट है, जो आइपीएस बनने का सपना पूरा करने लिए जीतोड़ मेहनत करते हैं। उन्होंने कहा कि तमाम आइएएस और आइपीएस अफसरों से मिलने के बाद यह फिल्म लिखी है। यह फिल्म उन सभी को समर्पित है। अगर यह फिल्म 10 छात्रों को भी प्रेरित करती है तो मैं अपनी कोशिश को सफल समझूंगा।वही सूत्रों की माने तो मुखर्जी नगर में शूट होने वाली यह पहली फिल्म है। मुखर्जी नगर दिल्ली के सपनो का नगर कहा जाता हैं। जहां देशभर से मेधावी विद्यार्थी आइएएस बनने का सपना लेकर पहुंचते हैं। कई ब्यूरोक्रेट्स के तार इस जगह से जुड़े रहे हैं। वही फिल्म का पहला पार्ट आगरा के चम्बल में शूट किया गया हैं। और फिल्म के दूसरे पार्ट को दिल्ली के मुखर्जी नगर में शूट किया जाएगा। रिपोर्ट्स की माने तो ये फिल्म अगले साल गर्मियों की छुट्टी में रिलीज की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here