सड़क से अतिक्रमण हटाने को सहायक अभियंता ने दिया दो दिन का अल्टीमेटम

0
336

सड़क से अतिक्रमण हटाने को सहायक अभियंता ने दिया दो दिन का अल्टीमेटम

पीलीभीत।

प्रांतीय खंड लोक निर्माण विभाग की जमीन पर जबरन रेता-बजरी डालकर पीलीभीत-बिलगवां मार्ग पर अतिक्रमण करके अपने व्यवसाय को चमकाने बाले फौजी बिल्डिंग मैटेरियल के प्रोपराइटर को सहायक अभियंता प्रांतीय खण्ड लोक निर्माण विभाग ने सार्वजनिक मार्ग से अतिक्रमण हटाकर विभागीय संपत्ति को खाली करने का निर्देश दिया है।सहायक अभियंता ने यह कार्यवाही पत्रकार महेश शर्मा की शिकायत को संज्ञान में लेकर की है।उधर अपने व्यवसाय पर ग्रहण लगते देख फौजी बिल्डिंग मैटेरियल के प्रोपराइटर मोहनलाल पुत्र खूबचंद ने शिकायतकर्ता पत्रकार को अंजाम भुगतने की धमकी दी है।
बताते चलें कि पत्रकार महेश शर्मा ने जनसमस्या को दृष्टिगत रखते हुए पीएम पोर्टल पर मुख्यमंत्री को संबोधित शिकायत दर्ज कराई थी।शिकायत में कहा है कि जिला मुख्यालय पीलीभीत से बिलगवां जाने बाले मार्ग के दोनों तरफ विभिन्न प्रकार के व्यापारियों द्वारा कच्चा – पक्का अतिक्रमण कर लिया गया है । राजकीय पॉलीटेकनिक पीलीभीत के सामने प्रांतीय खण्ड लोक निर्माण विभाग के संबंधित अवर अभियंता और सहायक अभियंता की सांठगांठ से फौजी बिल्डिंग मैटेरियल के प्रोपराइटर द्वारा रेता – बजरी के ओवरलोड वाहनों को बुलाकर लोक निर्माण विभाग की सड़क को क्षतिग्रस्त कर दिया गया है और सड़क के दोनों तरफ रेता – बजरी व अन्य बिल्डिंग मैटेरियल डालकर सड़क पर अतिक्रमण करके आम जनमानस के आवागमन में अवरोध उत्पन्न किया जा रहा है , इसके अतिरिक्त सड़क पर व्यावसायिक भवन निर्माण कर्ताओं ने अबैध निर्माण कर सड़क को तंग ( संकरा ) दिया है । पीलीभीत – बिलगवां मार्ग से अतिक्रमण हटाने और निर्धारित सीमा तक चौड़ीकरण करने सहित सड़क को गड्ढामुक्त कराना जनहित में नितांत आवश्यक है ।
अधिशासी अभियंता प्रांतीय खण्ड लोक निर्माण ने शिकायत का संज्ञान लेकर संबंधित सहायक अभियंता को त्वरित कार्यवाही करने का निर्देश दिया।अधिशासी अभियंता ने जानकारी देते हुए बताया कि विलगवां मार्ग स्थित फौजी बिल्डिंग मैटेरियल के प्रोपराइटर को सड़क के किनारे से बिल्डिंग मैटेरियल का ढेर हटाने हेतु सहायक अभियन्ता ( प्रथम ) प्रा.ख. लो.नि.वि पीलीभीत द्वारा नोटिस दिया गया था। नोटिस में निर्धारित समयावधि में अतिक्रमणकर्ता द्वारा स्वयं अतिक्रमण न हटाने की स्थिति में सहायक अभियन्ता / अवर अभियन्ता द्वारा मौके पर जाकर तत्काल अतिक्रमण हटाने हेतु कहा गया। अतिक्रमणकर्ता द्वारा स्वयं अतिक्रमण हटाने के लिए 2 दिसंबर तक का समय देने का अनुरोध किया गया है । 2 दिसंबर तक अतिक्रमण न हटाने की स्थिति में जिला पुलिस प्रशासन की सहायता से बलपूर्वक अतिक्रमण हटवा दिया जायेगा । प्रांतीय खण्ड लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों द्वारा की गई कार्यवाही से गुस्साए फौजी बिल्डिंग मैटेरियल के मोहनलाल ने शिकायतकर्ता को जान से मरवाकर पुनः अपना मैटेरियल लोक निर्माण विभाग की जमीन पर डालने की धमकी दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here