सड़क पर गिटटी बिछाकर काम बीच मे ही अधुरा छोड़ा गिटटी से कट रहे वाहनों के टायर

0
21

नागौर जिले के मेड़ता उपखंड के ढावा ग्राम पंचायत के बासनी से देशवाल जाने वाली सड़क के डामरीकरण का काम पिछले डेढ़ साल से बंद पड़ा है।इस सड़क का किसान पथ के तहत कृषि उपज मण्डी मेड़ता के जरिए करीब 57.65 लाख रूपए की राशि से सड़क का डामरीकरण होना था।मार्च 2021 मे बासनी से देशवाल के मध्य करीब 57.65 लाख रुपए की लागत से सड़क डामरीकरण को लेकर स्वीकृति जारी हुई थी जिसको लेकर टेण्डर प्रक्रिया पुर्ण होने के बाद एक निजी फर्म ने सडक़ के डामरीकरण को लेकर कार्य शुरू कर दिया था।जब सड़क का निर्माण शुरू हुआ था तो ग्रामीणों को राहत की उम्मीद जागी थी लेकिन यह सडक़ राहत की बजाय ग्रामीणों को अब गहरा जख्म दे रही है।निजी फर्म ने बासनी से देशवाल की तरफ करीब तीन किलोमीटर सड़क को समतल करने के बाद सड़क मार्ग पर मोटी गिटटी व मिटटी बिछा कर रोलर चलाकर कर सड़क का काम बंद कर दिया था जो पिछले करीब पिछले डेढ़ साल से बंद पड़ा है।सडक़ का निर्माण कार्य बंद होने के डेढ़ साल का समय बित जाने के बाद भी सडक़ का निर्माण कार्य शुरू नही करने के बावजूद निजी फर्म के खिलाफ कोई कार्यवाही न होना जिम्मेदारों पर भी सवालिया निशान लगा रहा है।वाहन चालक राधाकिशन कहना है गिटटी निकलने से वाहनों के टायर मे कट ले जाने के कारण वाहनचालकों को आर्थिक नुकसान के साथ परेशानी का सामना भी करना पड़ रहा है।वही ग्रामीणों ने बताया कि दुपहिया चालक तो कई बार गिटटी के कारण दुपहिया वाहन का संतुलन बिगड़ने से गिरकर चोटिल भी हो जाते है।ग्रामीणों की मांग है कि अतिशीघ्र सड़क का बंद पड़ा कार्य शीघ्र शुरू करवाए ताकि वाहनचालकों को इस परेशानी से राहत मिल सके।

रिपोर्ट ओमप्रकाश गौड़ ब्यूरो चीफ मेड़ता जिला नागौर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here