दिगम्बर जैन संत शिरोमणि आचार्यश्री विद्यासागर जी महाराज जी के जीवन  यात्रा पर आधारित फ़िल्म “अंतर्यात्री महापुरुष “(The Walking God) का पोस्टर रिलीज 

0
293

दिगम्बर जैन संत शिरोमणि आचार्यश्री विद्यासागर जी महाराज जी के जीवन  यात्रा पर आधारित फ़िल्म
“अंतर्यात्री महापुरुष “(The Walking God) का पोस्टर रिलीज

संत शिरोमणि  आचार्यश्री  विद्यासागर जी महाराज जी के 50वें आचार्य पदारोहण महोत्सव के उपलक्ष्य में पोस्टर जारी



मुंबई , २२ नवम्बर २०२१: संत शिरोमणि  आचार्यश्री  विद्यासागर जी महाराज की के जीवन पर आधारित हिंदी फ़िल्म अंतर्यात्री महापुरुष ( The Walking God )का फ़र्स्ट लुक जारी किया गया । अंतर्यात्री महापुरुष ग्रंथ पर आधारित इस फ़िल्म का पहला पोस्टर संत शिरोमणि आचा


र्यश्री  विद्यासागर जी महाराज जी के 50वें आचार्य पदारोहण के उपलक्ष्य में पोस्टर जारी किया गया । निर्देशक अनिल कुलचैनिया की फ़िल्म अंतर्यात्री महापुरुष ( The Walking God) में प्रमुख
किरदार में विवेक आनंद मिश्रा , किशोरी शहाणे , गजेंद्र चौहान , स्वर्गीय श्री बलदेव त्रेहान, कृष्णा भट्ट , सुधाकर शर्मा ,मिलिंद गुणाजी, गूफ़ी पेंटल , अर्जुन, विक्की  हाड़ा , हार्दिक मिश्रा नज़र आएँगे ।

फ़िल्म दिगम्बर संत शिरोमणि आचार्यश्री विद्या सागर जी महाराज जी की जीवन यात्रा है , जो उनके बचपन से लेकर आचार्य पद प्राप्त करने तक की कहानी है , उनकी शिक्षा , उनके खेल कूद , उनका भाई बहन के प्रति प्यार , माता पिता के प्रति उनकी श्रद्धा , उनके जीवन में आए उतार चढ़ाव और धर्म के प्रति उनका समर्पण भाव इस फ़िल्म में देखने को मिलेगा।

शिरोमणि क्रिएशन के बैनर तले बनी फ़िल्म  “अंतर्यात्री महापुरुष”( The walking God ) वंडर सीमेंट ( RK Group) की प्रस्तुति है और इस फ़िल्म  लेखन-निर्देशन अनिल कुलचैनिया हैं फ़िल्म की निर्मात्री कामना कुलचैनिया और सह निर्माता उमेश मल्हार और आनंद राठी हैं। फ़िल्म का संगीत सतीश देहरा ने तैयार किया हैं और गीतकार सुधाकर शर्मा हैं। फ़िल्म के सिनेमेटोग्राफ़र महेश जी. शर्मा , नासिर और नूर है एवं एडिटर गुल हैं। फ़िल्म का पार्श्वसंगीत धर्मेन्द्र जवड़ा ने तैयार किया और
नृत्य निर्देशक माधव किशन हैं।

इस अवसर पर निर्देशक अनिल कुलचैनिया ने बताया की “संत शिरोमणि आचार्यश्री
विधा सागर जी  आदर्श जीवन जनमानस के लिए प्रेरणास्रोत है , वो विश्व संत के रूप में जाने जाते है।उनके जीवनकाल की कई घटनाओं से यह फ़िल्म परिचित कराएगी । यह जैन धर्म की पहली फ़िल्म हैं जो जैन विद्वानो और जैन मुनियों  के दिशा निर्देशो का पूर्णतःपालन करते हुए बनायी गयी हैं । यह फ़िल्म आचार्यश्री  विद्यासागर जी महाराज  के भक्तों  के साथ साथ ही सिनेमा के सभी वर्ग के दर्शकों को पसंद आएगी ।

फ़िल्म की शूटिंग  कर्नाटक के सदलगा, स्तवनिधि,गोम्मेटेश्वर बाहुबली , मुंबई , अजमेर , किशनगढ़ , जयपुर, दादिया गाँव , कोटा , कोल्हापुर आदि स्थानो पर की गयी हैं यह फ़िल्म जल्दी ही देश सिनेमागृहों में प्रदर्शित होने के लिये तैयार है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here