Follow Us

मण्डलायुक्त द्वारा स्मार्ट सिटी परियोजना के अंतर्गत ऑपरेशन कायाकल्प हेतु चयनित बेसिक शिक्षा परिषदीय विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों को लैपटाॅप वितरित

मुरादाबाद 10 अगस्त, 2023 स्मार्ट सिटी परियोजना के अंतर्गत ऑपरेशन कायाकल्प हेतु चयनित हुए नगर क्षेत्र मुरादाबाद के 48 बेसिक शिक्षा परिषदीय विद्यालयों में से कार्य पूर्ण हो चुके 40 विद्यालयों के प्रधानाध्यापको को लैपटॉप वितरण और स्कूलों में स्थापित डिजिटल क्लास रूम का शुभारंभ मण्डलायुक्त श्री आंजनेय कुमार सिंह जी के द्वारा किया गया। आयुक्त कार्यालय सभागार में आयोजित हुए कार्यक्रम में सर्वप्रथम परिषदीय स्कूलों के बच्चों के द्वारा आयुक्त को पुष्प गुच्छ और हस्तनिर्मित पेंटिंग भेंट कर उनका अभिनंदन किया गया तथा स्मार्ट स्कूल बनाने के लिए धन्यवाद दिया गया।इसके उपरांत मण्डलीय सहायक शिक्षा निदेशक बेसिक मण्डल मुरादाबाद बुद्धप्रिय सिंह के द्वारा स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत नगर क्षेत्र मुरादाबाद के स्कूलों में हुए विकास कार्यों तथा उनसे प्राप्त हो रहे लाभों की जानकारी प्रदान करते हुए प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की गयी। उन्होंने बताया कि मुरादाबाद का नगर क्षेत्र मुरादाबाद पूरे मण्डल के साथ ही प्रदेश का ऐसा ब्लाक होगा जहां के 90 प्रतिशत स्कूल स्मार्ट हो चुके हैं और वहां तकनीकी का प्रयोग किया जा रहा है। कार्यक्रम में मौजूद नगर आयुक्त सी0ई0ओ0स्मार्ट सिटी संजय कुमार चैहान के द्वारा स्मार्ट सिटी परियोजना में शहरी क्षेत्र के स्कूलों में कराए गए कार्यों की विकास योजना की जानकारी प्रदान करते हुए ऑपरेशन कायाकल्प के बाद स्कूलों की स्थिति में हुए सुधारो व स्थापित की गई अवस्थापना सुविधाओं की जानकारी प्रदान करते हुए सभी शिक्षकों से उनका सदुपयोग करने और बच्चों को सुविधाओं का लाभ दिलाने की अपील की गयी। नगर आयुक्त के द्वारा स्मार्ट स्कूलों की सुरक्षा के दृष्टिगत शीघ्र ही सभी स्कूलों में लगाये गए सी0सी0टी0वी0 कैमरों को नगर निगम और प्रशासन की निगरानी प्रणाली से जोड़े जाने की बात भी बताई गयी।लेपटॉप वितरण कार्यक्रम व डिजिटल क्लास शुभारंभ करते हुए कमिश्नर ने अपने सम्बोधन में कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार सरकारी स्कूलों में सुधार के लिए वचनबद्ध है। इसी क्रम में स्मार्ट सिटी परियोजना में महानगर मुरादाबाद के निजी भवन वाले 48 स्कूलों का चयन करते हुए उन्हें सभी प्रकार की सुविधाओं से युक्त कर दिया गया है। अब सरकारी स्कूल भी प्राइवेट स्कूलों से मुकाबला करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने सभी शिक्षकों से पूरे मनोयोग से बच्चों को पढ़ाई लिखाई में स्मार्ट बनाने की अपील की। मण्डलायुक्त के द्वारा कहा गया कि स्मार्ट स्कूल बनाने के बाद अब यह जिम्मेदारी शिक्षकों की है कि वह अपने स्कूलों के सभी बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देते हुए उन्हें स्मार्ट बनाये तभी सही मायनों में स्मार्ट स्कूल की अवधारणा पूरी हो सकेगी। उन्होंने सभी शिक्षकों से कहा कि उनके नवाचारों का प्रदर्शन उनके बच्चों की गुणवत्ता में दिखाई देना चाहिए। कमिश्नर द्वारा नगर आयुक्त ओर ए0डी0 बेसिक से अन्य शेष स्कूलों में भी कराए जाने वाले विकास कार्यो की योजना बनाने के लिए भी निर्देशित किया गया। मण्डलायुक्त द्वारा ऑपरेशन कायाकल्प में बेसिक स्कूलों में हुए कार्यों की प्रगति पर संतोष व्यक्त करते हुए सभी सम्बंधित की प्रशंसा भी की गई। इसके उपरांत सभी 40 स्कूलों के हेड टीचर्स को मंडलायुक्त औा नगर आयुक्त के द्वारा लैपटॉप का वितरण किया गया। कार्यक्रम के अंत में मण्डलीय सहायक शिक्षा निदेशक बेसिक मण्डल मुरादाबाद के द्वारा स्मार्ट स्कूल बनाने के लिए स्मृति चिन्ह भेंटकर सभी की आभार अभिव्यक्ति की गई।कार्यक्रम में मुख्य रूप से उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम के परियोजना प्रबंधक डी.सी.राणा, स्मार्ट सिटी के चीफ इंजीनियर अनिल कुमार मित्तल, स्मार्ट सिटी परियोजना के आर्किटेक्ट पीयूष अग्रवाल, खण्ड शिक्षा अधिकारी नगर मनोज कुमार बोस, प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष राकेश कौशिक के अलावा राहुल शर्मा, उस्मान आरिफ, अवर अभियंता अजय सैनी, विनोद कुमार, नीरज गुप्ता, शिक्षक मनीला शर्मा, रोशनी वर्मा, नीतू सिंह, शालिनी, उषा देवी, विष्णु भारद्वाज, सुगन्ध गुप्ता, आशीष कुमार आदि मौजूद रहे।

Leave a Comment