Follow Us

बांदा में संविदा लाइनमैन की मौत हो गई

बांदा से संवाददाता- विनय सिंह की रिपोर्ट

बांदा, देर रात में 11000 लाइन की चपेट में आने से संविदा लाइनमैन की दर्दनाक मौत हो गई। गुस्साए परिजनों ने सुबह शव को रोड पर रखकर रोड जाम कर दिया। मौके पर पहुंचे क्षेत्रीय विधायक,एसडीएम बबेरू और सीओ बबेरू ने जाम लगाए परिजनों को समझाते हुए जाम खुलवाया। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

कमासिन थाना क्षेत्र के ग्राम बंथरी निवासी जगदू यादव का 25 वर्षीय पुत्र अनु यादव स्थानीय विद्युत उपकेंद्र में संविदा में लाइन मैन में कार्यरत था। शाम को घर जाने के पहले बाबू पुरवा के कल्लू वर्मा के बोर में रुक गया था। नहाने खाने के बाद रात्रि में करीब 12:30 बजे लमियारी फीडर का फ्यूज उड़ गया।

अनु ने विद्युत उपकेंद्र में तैनात फौजी राम बहादुर से लमियारी फीडर का शटडाउन देने को कहा राम बहादुर ने लाइनमैन अनु को बताया कि आज शाम को जेई गोपाल ने मना कर दिया है कि किसी भी लाइनमैन को शटडाउन बगैर मेरी अनुमत के न दें। जेई से बात कर लो ठीक उसी समय लमियारी फीडर की लाइन ब्रेकडाउन हो गई अनु यादव ने समझा कि शटडाउन दे दिया गया।

सहायक शिवनाथ ने अनु को बताया की लाइन ब्रेकडाउन में है शटडाउन नहीं दिया गया संभवत नशे की हालत में अनु ने समझा कि शटडाउन हो गया। वह 11000 की लाइन के खंभे में चढ़ गया जैसे ही फाल्ट ठीक करने लगा तभी बिजली आ गई जिससे अनु पूरी तरह जल गया और मौके पर ही मौत हो गई और नीचे गिर गया।

मौके पर मौजूद कल्लू वर्मा ने करीब 3 किलोमीटर पैदल चलकर रात में ही अनु के घर वालों को बंथरी जाकर सूचना दी। रात को ही परिजनों के अलावा सैकड़ों व्यक्ति गांव से मौके पर आ गए और सुबह यसयसओ द्वारा जानबूझकर लाइन चालूकर अनु को मार डालने का आरोप लगाते हुए जमरेही नाथ चौराहा मोड पर सड़क जाम कर दिया। तब तक सैकड़ों व्यक्ति मौके पर पहुंचे गए और जाम में शामिल हो गए।

जाम से आवागमन बाधित हो जाने की सूचना जब प्रभारी निरीक्षक ऋषि देव सिंह को मिली तो फोर्स के साथ मौके पर पहुंचकर समझा कर जाम हटवाने का प्रयास किया। लेकिन आक्रोशित लोग फौजी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग करने लगे। सूचना पर एसडीएम बबेरू व सीओ बबेरू राजवीर सिंह मौके पर पहुंचकर जाम किये लोगों को विधि कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया।

इसके तुरंत बाद क्षेत्रीय सपा विधायक विशंभर सिंह यादव भी मौके पर पहुंचकर लोगों को समझाया बुझाया और मदद करने का भरोसा दिलाया। आखिर 2 घंटे बाद सड़क जाम कर रहे लोगों ने प्रशासन और विधायक की बातों पर विश्वास कर जाम हटा दिया। इसके बाद प्रभारी निरीक्षक ऋषि देव सिंह ने कागजी कार्रवाई करते हुए शव को पोस्टमार्टम हेतु बांदा भेज दिया है।

Leave a Comment