Follow Us

बच्चों के नि:शुल्क उपचार हेतु कानपुर प्रस्थान करने वाली बस को जनपद मऊ के जिलाधिकारी ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना।

नदीम अहमद पत्रकार इंडियन टीवी न्यूज़ मऊ उत्तर प्रदेश

जन्मजात दोष जन्मजात बहरापन से ग्रसित बच्चों के नि:शुल्क उपचार हेतु कानपुर प्रस्थान करने वाली बस को जनपद मऊ के जिलाधिकारी ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना।

जनपद मऊ के जिलाधिकारी प्रवीण मिश्र ने कलेक्ट्रेट प्रांगण से राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत जन्मजात दोष जन्मजात बहरापन से ग्रसित बच्चों के (कॉक्लीयर इम्पप्लांट) नि:शुल्क उपचार हेतु कानपुर प्रस्थान करने वाली बस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। मऊ जिले से राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत डा.एस.एन. मेहरोत्रा ईएनटी फाउंडेशन, कानपुर (उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इंपैनल्ड) में आरबीएसके कार्यक्रम के अंतर्गत कॉक्लियर इंप्लीमेंटेशन/वृहद जांच एवं उपचार हेतु दिनांक 13 जून 2024 को जाने हेतु एवं 14 जून को वापस आने हेतु निःशुल्क बस/ परिवहन की व्यवस्था जिलाधिकारी द्वारा की गई। कॉक्लीयर इम्पप्लांट सर्जरी हेतु बच्चों के अभिभावक द्वारा जिला दिव्यांग सशक्तिकरण अधिकारी कार्यालय में प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया। इस प्रार्थना पत्र के साथ आयु प्रमाण पत्र, दिव्यांग प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र एवं पिता अभिभावक का आय प्रमाण पत्र व बच्चे/अभिभावक का आधार कार्ड अथवा अन्य अनुमन्य आवश्यक प्रपत्र जिससे पहचान वह पता हो प्रस्तुत किया गया। प्राप्त प्रार्थना पत्र के आधार पर जन्मजात बहरापन के स्क्रीनिंग हेतु जिला चिकित्सालय में निःशुल्क शिविर का आयोजन हुआ था। इसके उपरांत आज मूक बाधित बच्चों के निशुल्क ऑपरेशन हेतु बस कानपुर के लिए रवाना हुई।

Leave a Comment