Follow Us

बीती रात जंबूसर नगर के प्लाजा सर्किल पर वाहनों की जांच कर रहे सांख्यिकी निगरानी दल के सदस्यों ने वहां से गुजर रही मारुति वैन को रोका

भरूच जिला जंबूसर
जम्बूसर

बीती रात जंबूसर नगर के प्लाजा सर्किल पर वाहनों की जांच कर रहे सांख्यिकी निगरानी दल के सदस्यों ने वहां से गुजर रही मारुति वैन को रोका और उसमें मथेला माथी शेंगडा-2, होजरी और मवेशियों से भरे वाहनों की जांच की चमड़ा मिलने के बाद हड़कंप मच गया है और जंबूसर पुलिस ने इस संबंध में कानूनी कार्रवाई की है. जंबूसर पुलिस थाने से मिली जानकारी के अनुसार सांख्यिकी निगरानी दल के प्रणव पटेल, ए.एच.सी.ओ. हरीशभाई भानाभाई, ए.पी.ओ. विपक्ष राजदीपसिंह वीरमदेवसिंह, ए.पी.सी.ओ. हरजीभाई वाहजी भाई जंबूसर प्लाजा सर्किल पर वाहनों की जांच कर रहे थे। उसी दौरान एक सफेद रंग की मारुति वैन क्रमांक जीजे-06-एलएस-8436 आई और उसे रोककर जांच की तो दो छोटे बैगों में से एक में दो सींग और होजरी तथा दूसरे में गाय का चमड़ा देखकर टीम के सदस्य हैरान रह गए। बैग और जंबूसर पुलिस को सूचित करते हुए तुरंत घटनास्थल पर पहुंचे और वैन चालक मोहम्मद इशाक मोहम्मद उस्मान कुरेशी को भागलीवाड प्राप्त करने के बाद, ताजा कटे हुए मवेशियों के अवशेष और नकद राशि 1650 रु.5000, और मारुति वैन Ki.Rs.4000 कुल रु. 46,600/- माल कब्जे में लेने के बाद मोहम्मद इशाक कुरेशी से पूछताछ की गई तो उसने पुलिस को बताया कि दो सींग, होजरी और चमडू (गाय) के अवशेष जाबिर के हैं, जो जंबूसर पंच हटड़ी खाराकुवा मस्जिद के पास रहते थे और सादिक के थे. जंबूसर पुलिस ने सांख्यिकी टीम के ए.एच.सी.ओ. हरीश भाई की शिकायत के आधार पर तीनों के खिलाफ ईपीसीओ की धारा 429, पशु संरक्षण संशोधन अधिनियम और पशु क्रूरता अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया। .बी. रथ चला रहा है और मवेशियों का वध कर रहे दो नास्ता-चालित नास्ताओं को पकड़ने के लिए उसने पहियों को चालू कर दिया है।

Leave a Comment