Follow Us

बबेरू कस्बे के प्रसिद्ध मां मढ़ी दाई मंदिर में श्री हरिकथा के समापन के बाद विशाल भंडारे का किया गया आयोजन

बबेरू कस्बे के प्रसिद्ध मां मढ़ी दाई मंदिर में श्री हरिकथा के समापन के बाद विशाल भंडारे का किया गया आयोजन

मामला बबेरू कस्बे के प्रसिद्ध मां मढ़ी दाई मंदिर का है। जहां पर श्री हरि कथा का चार दिवसीय आयोजन किया गया था। जिसमें शुक्रवार को श्री हरि कथा के समापन पर दिव्य ज्योति जागृति संस्थान के संस्थापक व संचालक श्री आशुतोष महाराज जी के शिष्य कथा व्यास स्वामी हरी प्रकाशा नंद जी ने गुरु तत्व की सार गर्भित व्याख्या किया है। उन्होंने बताया कि गुरु गीता में भगवान शिव कहते हैं, हमारे अंतःकरण में स्थित ईश्वर का दीक्षा के समय ही तृतीय नेत्र खोलकर प्रत्यक्ष दर्शन करा दें हरि कथा समापन के बाद शाम 7:00 बजे से विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। जिसमें हजारों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचकर भंडारे का प्रसाद ग्रहण किया। वहीं मंच का संचालन स्वामी दीपेश्वरानंद, भजन में सूर्य प्रकाश, सोमेश ,साध्वी राधा माता, की बहन नेहा, बहन यशस्वी द्वारा सुंदर प्रस्तुति किया।कथा के समापन के समय बबेरू नगर पंचायत के अध्यक्ष सूर्यपाल सिंह यादव ,मुन्ना सिंह तराया रामहित पटेल विष्णु नरेश मिश्रा धर्मपाल सत्यनारायण गुप्ता प्रकाश नारायण चतुर्वेदी मनोज सोनी अमरेश द्विवेदी शोभित सहित अन्य भक्तजन व सैकड़ो की संख्या में माताएं बहने कथा का श्रवण किया उसके बाद शाम को विशाल भंडारे का प्रसाद ग्रहण किया।

रिपोर्ट –विनय सिंह बांदा

Leave a Comment