Follow Us

कल्याणकारी योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन के संबंध में संबंधित विभाग के अधिकारियों संग बैठक कर आवश्यक निर्देश दिए

त्रिलोकी नाथ ब्यूरो चीफ गया
इंडियन टीवी न्यूज चैनल

माननीय मंत्री सहकारिता विभाग बिहार सरकार dr प्रेम कुमार की अध्यक्षता में समाहरणालय सभा गार में सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन के संबंध में संबंधित विभाग के अधिकारियों संग बैठक कर आवश्यक निर्देश दिए हैं।

गया, 10 जून 2024, माननीय मंत्री सहकारिता विभाग बिहार सरकार डॉ प्रेम कुमार की अध्यक्षता में समाहरणालय सभाकक्ष में सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन के संबंध में संबंधित विभागों के पदाधिकारी के साथ बैठक करते हुए कई आवश्यक निर्देश दिए हैं। सर्वप्रथम प्रभारी जिला पदाधिकारी सह उप विकास आयुक्त गया द्वारा माननीय मंत्री का स्वागत किया गया।
समीक्षा बैठक करते हुए माननीय मंत्री ने कहा कि गया नगर निगम अधीनस्थ जितने भी पार्क हैं, उसे पूरी तरह सौंदर्यकरण का कार्य करवाये। नगर आयुक्त द्वारा बताया गया कि आठ पार्क नगर निगम के अधीनस्थ है, जिनमें तीन पार्क को वन विभाग को स्थानांतरित कर दिया गया है शेष पांच पार्क को सौंदर्य करण कराने के पश्चात हैंडोवर कराया जाएगा। माननीय मंत्री ने निर्देश दिया है कि सभी पार्कों का पूरी अच्छी तरीके से मेंटेनेंस एवं सुरक्षा की व्यवस्था रखा जाए इसके अलावा उन्होंने नगर आयुक्त को कहा कि आजाद पार्क का साफ सफाई एवं मेंटेनेंस की पूरी जिम्मेदारी नगर निगम को है, पूरी हरियाली बनाए रखें। एपी कॉलोनी में जितने भी पार्क हैं उसे पूरी तरह सफाई के साथ-साथ मेंटेनेंस भी करवाये। उन्होंने पुलिस पदाधिकारी को निर्देश दिया है कि गया शहरी क्षेत्र में जितने भी पार्क हैं उसे नियमित रात्रि में पेट्रोलिंग की व्यवस्था करावे ताकि रखरखाव पूरी अच्छी तरीके से रह सके।
इस वर्ष मानसून सीजन में वन विभाग द्वारा 8 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है। इनमें मुख्य रूप से व्यापक पैमाने पर जंगल में पौधे लगाए जाएंगे। गया शहर के अंदर अर्थात शहरी क्षेत्र के विभिन्न स्थानों पर 10 हजार पौधे लगाने के कार्य योजना तैयार की गई है, लगाए जाने वाले पेड़ों को अच्छी तरीके से देखभाल एवं विकसित के लिए टैंकर एवं ट्रैक्टर की भी व्यवस्था रखी जा रही है ताकि नियमित तौर पर लगातार 3 वर्षों तक उसे देखभाल करेंगे। और शत प्रतिशत पेड़ को जीवित रखने का कार्य किया जाएगा। इसके अलावा 340000 पौधे जीविका के माध्यम से विभिन्न स्थानों पर लगाए जाएंगे। कृषि वाणिज्य कर विभाग द्वारा एक लाख पौधे लगाए जाएंगे। 16700 पौधे विभिन्न नेशनल हाईवे एवं स्टेट हाईवे वाले सड़कों के किनारे लगाए जाएंगे ताकि पूरी तरह हरित पथ बना रहे। इसके लिए सर्वे का कार्य पूर्ण हो चुका है। लगने वाले पेड़ों में मुख्यतः पीपल बरगद नीम गुलमोहर इत्यादि को शामिल किया गया है।
प्रभारी जिला पदाधिकारी गया ने बताया कि मनरेगा के माध्यम से इस वर्ष भी 7 लाख पौधा लगाने का टारगेट प्राप्त हुआ है परंतु इस वर्ष गया जिले में 10 लाख पौधे मनरेगा के माध्यम से लगाने की कार्य योजना तैयार की गई है। इनमें मुख्य रूप से 2 लाख पौधे नदियों के किनारे लगाए जाएंगे। विभिन्न सरकारी भवनों के कैंपस के अंदर क्षमता के आधार पर पौधा लगाने की कार्य योजना तैयार की जा रही है। विभिन्न सड़कों के किनारे जापानी टेक्निक (मियांवर टेक्निक) के माध्यम से सड़कों के किनारे पौधे लगाए जाएंगे। माननीय मंत्री ने गारलैंड ट्रेंच के समीप भी पर्याप्त पौधे लगाने का निर्देश दिए हैं। इस वर्ष गया जिले में पहली बार पायलट प्रोजेक्ट के रूप में सीड बॉल नामक तकनीक से पहाड़ो पर पेड़ लगाए जाएंगे। सीड बॉल का तात्पर्य है कि एक छोटे आकार का जैविक खाद्य का गोलाकार नुमा में विभिन्न पेड़ के बीज को डालकर उसे सुखाया जाता है और उसे बरसात आने पर ड्रोन के माध्यम से या मैन्युअल पहाड़ों पर सीड बॉल का छिड़काव किया जाता है, जिससे बिना पेड़ों के पहाड़ पर दोबारा पेड़ लगाने की यह पहल इस बार की जा रही है। यह तकनीक सही तरीके से चलने पर अगले मानसून में इसे व्यापक पैमाने पर करवाया जाएगा। इस वर्ष रामशिला प्रेतशिला दुर्गेश्वरी सहित अन्य बड़े पहाड़ों पर सीड बॉल का छिड़काव करवाया जाएगा। इस वर्ष 01 लाख सीड बॉल छिड़काव करने का पायलट प्रोजेक्ट तैयार किया गया है।
बैठक में नगर आयुक्त, ज़िला वन प्रमंडल पदाधिकारी, सिविल सर्जन, dysp यातायात, ज़िला आपूर्ति पदाधिकारी, ज़िला जन सम्पर्क पदाधिकारी, वरीय उप समाहर्ता नजारत सहित अन्य विभागों के पदाधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Comment