Follow Us

समाज की जमीनों को कब्जा मुक्त करने का अभियान चल रहा

एक तरफ प्रदेश सरकार सार्वजनिक संपत्तियों पर कब्जे के खिलाफ अभियान शुरू की है और सुरक्षित प्रकृति की जमीनों ग्राम समाज की जमीनों को कब्जा मुक्त करने का अभियान चल रहा है। ऐसे में मौके पर मडियाहू नगर पंचायत के बड़े बाबू अमरनाथ विश्वकर्मा उर्फ चौथी, अध्यक्ष रुखसाना फारूकी के देवर वैस फारुकी, व अध्यक्ष पति कमाल अख्तर फारुकी व जो भूमाफिया किस्म के व्यक्ति है वह लोग नगर पंचायत के अन्य कर्मचारियों के साथ बैठकर भंडरिया टोला पाही में सुरक्षित प्रकृति की गड़ही खाते की जमीन गाटा संख्या455 को भूमाफियाओं द्वारा पाट कर उसका प्रकृति परिवर्तन कर उस पर कब्जा करने का प्रयास किया जा रहा है । मामले में नगर पंचायत मौन धारण किए हुए हैं। जब इस संबंध में मौके पर मौजूद नगर पंचायत के बड़े बाबू अमरनाथ विश्वकर्मा उर्फ चौथी से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि यह नगर पंचायत के अध्यक्ष के कहने पर यह काम किया जा रहा है। मौके पर दर्जनों की संख्या में मिट्टी लगी ट्रैक्टर मिट्टी पाटने में लगी हुई थी। मामले की सूचना आसपास के लोगों व बजरंग दल के जिला उपाअध्यक्ष विनोद कुमार जायसवाल के द्वारा लेखपाल उप जिलाधिकारी व तहसीलदार मडियाहू को दे दी गई है। कार्यवाही न होने पर उच्च अधिकारियों से शिकायत की इसके पश्चात आनन फानन में देर रात्रि उपजिलाधिकारी मडियाहू कुणाल गौरव, तहसीलदार मडियाहू कृष्ण राज सिंह , क्षेत्राधिकार मडियाहू उमाशंकर सिंह ,सहित हल्का लेखपाल प्रमोद श्रीवास्तव के साथ साथ हल्का पुलिस और कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंचकर वहां से लगे मशीनों को अपने कब्जे में ले लिया । मौके से एक ट्रैक्टर को भी अपने गिरफ्त में ले लिया है जिस पर मिट्टी लगी हुई थी । लोगों द्वारा उपरोक्त लोगों के खिलाफ नामजद शिकायती प्रार्थना पत्र कोतवाली में दे दिया है। देखना है कि प्रशासन इस पर क्या कार्यवाही कर रहा है। क्योंकि नगर पंचायत अध्यक्ष पति कमाल अख्तर फारुकी नगर में यह कहते फिरते हैं जो कि चर्चा का विषय बना हुआ है कि उनकी सुबे के मुख्यमंत्री से अच्छी पहचान है तथा जिले के सभी अधिकारी से उनकी अच्छी पहचान तथा उनके कई रिश्तेदार भी मुख्य राजस्व अधिकारी कार्यालय के साथ साथ अपर जिलाधिकारी जौनपुर के कार्यालय में कार्यरत हैं । यही कारण है कि उनके ऊपर किसी प्रकार की कोई कार्यवाही हो पाना संभव नहीं है ऐसा नगर में चर्चा का विषय बना हुआ है अब देखना यह है कि जिला प्रशासन प्रशासन ऐसे लोगों पर किस तरीके की कार्यवाही करती है तथा किस तरीके से माननीय सर्वोच्च न्यायालय के आदेश का पालन करवा पाती है या नहीं। इसी तरह एक दिन पूर्व भी जल खाते की भूमि पर कब्जा करने की नीयत से मिट्टी पटवाया गया था जिसकी शिकायत स्थानीय लोगों द्वारा मुख्यमंत्री पोर्टल व थाना दिवस के साथ-साथ उपजिलाधिकारी मडियाहू कार्यालय में ज्ञापन सौपा गया है इसके पश्चात उपजिलाधिकारी मडियाहू द्वारा यह आश्वासन दिया गया था कि किसी प्रकार का अवैध कब्जा नहीं होने दिया जाएगा। बावजूद प्रशासन के आदेश की अवहेलना करते हुए मनमाने तरीके से सत्ता की हनक में चूर स्थानीय नगर पंचायत अध्यक्ष के साथ-साथ उनके पति कमाल अख्तर फारुकी व देवर वैश फारूकी स्थानीय भू माफियाओं के साथ मिलकर जल खाते की भूमि पर अवैध कब्जा करते चले जा रहे हैं। ज्ञात होगी यही लोग कुछ वर्षों पूर्व सांप्रदायिक हिंसा को भड़काने हेतु नगर के ही एक निवासी के भूमि धरी में जबरन कब्र गढ़वा रहे थे जिसको लेकर जिला प्रशासन से लेकर स्थानीय प्रशासन को जलालत झेलनी पड़ी थी।
जौनपु ब्यूरो चीफ शादाब अंसारी की रिपोर्ट लोकेशन जौनपुर उत्तर प्रदेश

Leave a Comment