Follow Us

तेज हवाओं के साथ बारिश ने किसानों की उम्मीदों पर फेरा पानी

भास्कर न्यूज जारोड़ा कस्बे सहित आसपास के क्षेत्र मे शनिवार दोपहर बाद मौसम मे अचानक हुए बदलाव के बाद रात्रि मे तेज हवाओं के साथ हुई बारिश ने किसानों की उम्मीदों पर पानी फेर दिया है।पहले भी किसान पाले व तापमान मे बढोतरी के कारण रबी फसलों मे नुकसान झैल चुके है।ऐसे मे शनिवार रात्रि को हुई बारिश ने किसानों की कमर तोड़ दी है।तेज हवाओं के साथ बारिश से गेंहु की फसलें जमीन पर पसर गई है।वही सरसों,जीरा व ईसबगोल की फसल पकाव पर थी जिसके चलते ऐसे समय पर बारिश होने से काफी नुकसान हुआ है।गेंहु की फसल जमीन पर पसरने से बालिया मे दाना नही पकेगा जिससे उत्पादन बुरी तरह से प्रभावित होगा।वही जीरें की फसल पकाव पर थी और बारिश होने से फसल काली पड़ने गुणवता प्रभावित होगी व तेज हवाओं के साथ बारिश होने से सरसों,ईसबगोल व जीरें के दाने भी जड़कर जमीन पर पसर जाने से उत्पादन प्रभावित होगा।ऐसे मे इस बैमोसम बारिश से किसानों को काफी नुकसान झैलना पड़ेगा।मेड़ता कलस्टर मे इस बार करीब 201970 हैक्टेंयर मे रबी फसलों की बुवाई हुई थी जिसमें सरसों,ईसबगोल व जीरें की फसल पकाव पर थी।सरसों की बीस फीसदी क्षेत्र मे फसल कटाई हुई है शेष सभी फसलें इन दिनों खेंतों मे खड़ी है।किसानों का कहना है कि बारिश से तीस से चालीस फीसदी तक नुकसान हुआ है।किसानों ने प्रशासन से विशेष गिरदावरी के जरिए नुकसान का आंकलन करवाकर उचित मुआवजा दिलवाने की मांग की है।किसान बारिश से हुए नुकसान की सुचना 72 घंटे के भीतर बीमा कंपनी के टोल फ्री नंबर पर 1800 102 4088 पर दर्ज करवाए।फौटो करैप्शन जारोड़़ा 712 एक खेत में जमीन पर पसरी गेहूं की फसल|

Leave a Comment