Follow Us

विश्व सिकल सेल दिवस 19 जून 2024 के आयोजन से संबंधित कलेक्‍टर द्वारा प्रेस वार्ता का किया गया आयोजन

विश्व सिकल सेल दिवस 19 जून 2024 के आयोजन से संबंधित कलेक्‍टर द्वारा प्रेस वार्ता का किया गया आयोजन

सिकल सेल से संबंधित लोगों को जागरूक करने के लिए आपकी बहुत बड़ी भूमिका है, इसमें आप सभी का सहयोग है अपेक्षित – कलेक्‍टर

सिकल सेल का हाइड्रोक्सीयूरिया (टेबलेट Hydroxyurea) दवा के माध्‍यम से किया जाता है उपचार – डॉ. ऋषीश्‍वर

19 जून 2024 को “विश्व सिकल सेल दिवस” के अवसर पर डिंडौरी जिले में कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है, यह एक देश व्‍यापी कार्यक्रम है, जिसमें उप राष्ट्रपति उपस्थित रहेंगे। कार्यक्रम का लाईव प्रसारण शुभ विदाई गार्डन गुना में सुबह 11:00 बजे से किया जायेगा साथ ही इसका लाईव प्रसारण ग्राम पंचायत स्‍तर पर भी कराया जायेगा।

इस अवसर पर आज पत्रकार वार्ता के दौरान कलेक्‍टर डॉ. सतेन्‍द्र सिंह द्वारा सिकल सेल से संबंधित कार्यकम एवं उपचार की विस्‍तृत जानकारी उपलब्‍ध कराई गई और सभी पत्रकार साथियों से अपेक्षा की गई कि इस बीमारी के लक्षण, बचाव और उपचार के बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए आपकी बहुत बड़ी भूमिका है, इसमें आप सभी का सहयोग अपेक्षित है।

सिकल सेल का हाइड्रोक्सीयूरिया (टेबलेट Hydroxyurea) दवा के माध्‍यम से किया जाता है उपचार

इससे पूर्व मुख्‍य चिकित्‍सा एवं स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी डॉ. राजकुमार ऋषीश्‍वर द्वारा सिकल सेल से संबंधित कार्यक्रम, लक्षण एवं उपचार के बारे में विस्‍तृत जानकारी दी। इस दौरान उन्‍होंने कहा कि गुना जिले में सिकल सेल के पूर्व से 3 रोगी है, साथ ही पी.एम. जनमन अभियान के अंतर्गत 62,101 लोगो की स्क्रीनिंग की गई जिसमें विकासखण्ड बमौरी में 13 सिकल सेल के पॉजिटिव केस पाये गये। इस बीमारी के लिए हाइड्रोक्सीयूरिया (टेबलेट Hydroxyurea) के माध्‍यम से उपचार किया जाता है।

सिकल सेल एनीमिया वंशानुगत विकार है, यह लाल रक्त कोशिकाओं के आकार को प्रभावित करता है जो शरीर के सभी भागों में ऑक्सीजन ले जाते हैं। लाल रक्त कोशिकाएँ आमतौर पर गोल और लचीली होती हैं, इसलिए वे रक्त वाहिकाओं के माध्यम से आसानी से आगे बढ़ती हैं। इसमें लाल रक्त कोशिकाओं के ज़्यादा मात्रा में नष्ट हो जाने के कारण लाल रक्त कोशिकाओं का आकार सिकल (हंसिया, अर्द्धचंद्राकार) हो जाता है और खून की नली में ब्लॉक होने से अंग खराब हो सकते तथा जान भी जा सकती है।

कार्यक्रम

सिकल सेल एनीमिया की उन्मूलन हेतु “राज्य हीमोग्लोविनोपैथी मिशन” के अंतर्गत 33 जिलो में सिकल सेल एनीमया की स्क्रीनिंग, जांच प्रबंधन, कांउसलिंग एवं रोकथाम हेतु कार्ययोजना का संचालन किया जा रहा है। प्रतिवर्ष 19 जून को ”विश्व सिकल सेल दिवस” मनाया जाता है। स्वास्थ्य विभाग, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, जनजातिय विभाग, महिला एवं बाल विकास, आयुष विभाग विभागों के समन्वय से कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे।

अनुवांशिक बीमारी सिकल सेल एनीमिया – दो डैमेज्ड क्रोमोजोम।

कैरियर या वाहक – एक डैमेज्ड क्रोमोजोम (जिले में 226 कैरियर है)

सिकल सेल एनीमिया के उपचार- निर्जलीकरण की अवस्था को ना आने देना। हाइड्रोक्सीयूरिया नाम की दवा के माध्यम से उपचार करना। फोलिक एसिड का अनुपूरण।

बोन मैरो ट्रांसप्लांट- सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है कि हम सिकल सेल के लिए स्क्रीनिंग करके पूर्व से ही दो सिकल सेल केरियर या रोगियों की आपस में शादी न होने दें, ताकि उनके होने वाले बच्चों में यह अनुवांशिक बीमारी न पहुंचे तथा दो से तीन पीढि़यो बाद समाप्त हो जाये।

19 जून 2024 को मनाया जाता है ”विश्व सिकल सेल दिवस”

जिला संयोजक आदिम जाति कल्‍याण द्वारा दी गई जानकारी अनुसार सिकल सेल एनीमिया रोग के व्यापक जन जागरूकता लाने एवं मध्यप्रदेश के 33 जिलों, 20 जनजातीय जिले +13 पीएम जनमन कवर जिले सम्मिलित हैं। गुना पीएम जनमन कवर जिला है, जिसमें पीएम जनमन योजना के तहत सहरीया जनसंख्या 69234 निवास करती है। गुना जिला में सिकल सेल स्क्रीनिंग की संख्या 62101 है। गुना जिला में सिकल सेल केरियर 226 है। गुना जिला में सिकल सेल के कुल पॉजीटिव मरीजों की संख्या 13 पाई गई है।

आज आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान मुख्‍य चिकित्‍सा एवं स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी डॉ. राजकुमार ऋषीश्‍वर, जिला संयोजक आदिम जाति श्री बी.सिसोदिया, प्रभारी जनसंपर्क अधिकारी श्री बी.एस. मीना सहित विभिन्‍न इलेक्‍ट्रॉनिक एवं प्रिंट मीडिया के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

जिला गुना से गोलू सेन की रिपोर्ट

Leave a Comment