Follow Us

गाजीपुर सीएम योगी ने राष्ट्रीय पोषण माह का किया शुभारंभ,प्रमाण पत्र देकर किया सम्मानित

गाजीपुर सीएम योगी ने राष्ट्रीय पोषण माह का किया शुभारंभ,प्रमाण पत्र देकर किया सम्मानित

संवाददाता अंकित दुबे

गाजीपुर। राष्ट्रीय पोषण माह का शुभारंभ सूबे के मुखिया मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने मंगलवार को लोक भवन से किया। इस अवसर पर उन्होने प्रदेश के 1359 आगनवाड़ी केन्द्रो का लोकार्पण/शिलान्यास, 101 बाल विकास परियोजना कार्यालयों का शिलान्यास, तथा 02 लाख आगनवाड़ी कार्यकत्रियों एंव सहायिकाओ को यूनिफार्म हेतु डी बी टी के माध्यम से उनके खाते मे धनराशि का अन्तरण किया।इसके साथ ही राष्ट्रीय पोषण अभियान के अन्तर्गत गोद भराई एवं अन्न प्रासन कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।जिसका सीधा प्रसारण राईफल क्लब सभागार में देखा गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि अध्यक्ष नगर पालिका परिषद सरिता अग्रवाल, जिलाधिकारी आर्यका अखौरी, मुख्य विकास अधिकारी संतोष कुमार वैश्य, जिला कार्यक्रम अधिकारी दिलीप कुमार पाण्डेय, सीडीपीओ प्रशान्त सिंह, समस्त सीडीपीओ सहित आगनबाड़ी कार्यकत्री, धात्री महिलाएॅ, उपस्थित रही।
जनपद स्तर पर यह कार्यक्रम राईफल क्लब सभागार मे मुख्य अतिथि अध्यक्ष नगर पालिका परिषद सरिता अग्रवाल की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ। मुख्य अतिथि एवं जिलाधिकारी आर्यका अखौरी ने इस अभियान के अन्तर्गत 10 कुपोषित बच्चे जो उपचार के पश्चात सुपोषित हुए उनकी माताओं को प्रमाण पत्र एवं बच्चो को खिलौने देकर सम्मानित किया । इसके साथ ही 10 धात्री महिलाओ मे फल एवं पोषाहार का वितरण एवं 10 शिशुओ का अन्न प्रासन कराया गया।
जिलाधिकारी ने राष्ट्रीय पोषण माह जो 1 से 30 सितम्बर तक चलाया जा रहा है,शुभारंभ पर उपस्थित आगनबाड़ी कार्यकत्रियों को बधाई देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री जी ने आज इस अभियान का शुभारंभ लोक भवन से किया है, इसी क्रम मे आज हम लोग यहां एक़ित्रत हुए है जिसका मूल मकसद पोषण जैसे महत्तपूर्ण विषय पर जानकारी प्राप्त करना है। उन्होने कहा कि आगनबाडी कार्यकत्री अपने-अपने क्षेत्रो मे इस अभियान को सफल बनाते हुए लोगो मे जागरूकता लाए तथा लोगो को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करें । जागरूकता के माध्यम से ही महिलाएॅ स्वस्थ्य रहेगी तभी वे अपने शिशुओ की भी देख-भाल कर सकेगी, जिससे एक स्वस्थ्य समाज का निर्माण होगा। उन्होने कहा कि सरकार द्वारा पिछले कई वर्षाे से पोषण अभियान पर विशेष बल दिया जा रहा है। सभी आगंनवाड़ी कार्यकत्रियों का दायित्व है कि वे अपने-अपने क्षेत्रो के ऐसे शिशुओ को चिन्हित करे जो कुपोषण से ग्रसित है तथा उन्हे चिकित्सीय सुविधा एवं निश्चित पोषाहार उपलब्ध कराते हुए कुपोषण से सुपोषण की तरफ लेकर आए। यह एक महत्तपूर्ण कार्य है जिससे समाज का उत्थान होगा। उन्होने आगनबाड़ी कार्यकत्रियों को आशा, ए एन एम के साथ मिलकर वी एच एन डी दिवस पर बच्चो एव गर्भवती महिलाओ की जॉच अवश्य कराने का निर्देश दिया।
मुख्य अतिथि अध्यक्ष नगर पालिका परिषद सरिता अग्रवाल ने इस अवसर पर समस्त आगनवाड़ी कार्यकत्रियों को बधाई देते हुए पूरी लगन के साथ इस अभियान को सफल बनाने की बात कही। उन्होने कहा कि शासन की मंशा है कि इस अभियान से जुड़ी प्रत्येक जानकारी जनपद के हर एक जनमानस को प्राप्त हो जिससे वे अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग रहे। आगनबाड़ी कार्यकत्री घर-घर जाकर पोषण अभियान एवं बीमारियों से बचाव की जानकारी दे। कोई भी बच्चा कुपोषित न हो। कार्यक्रम के अन्त में जिला कार्यक्रम अधिकारी दिलीप पाण्डेय ने मुख्य अतिथि, जिलाधिकारी, एवं उपस्थित अधिकारियों का आभार व्यक्त किया।

Leave a Comment