Follow Us

पहल:विश्व मातृ दिवस पर युवाओं ने वृद्ध माताओ को उपहार स्वरूप भेट किया कपड़े व फुट स्लीपर्स।

पहल:विश्व मातृ दिवस पर युवाओं ने वृद्ध माताओ को उपहार स्वरूप भेट किया कपड़े व फुट स्लीपर्स।

रिपोर्टर विजय कुमार यादव

उमरिया– विश्व मातृ दिवस के अवसर पर सेवा भाव के उद्देश्य से हर वर्ष के भांति इस वर्ष भी जिले की सक्रिय युवाओं की टोली युवा टीम उमरिया के द्वारा जिले के ग्रामीण व वार्ड क्षेत्र में चिन्हित वृद्ध व असहाय 50 महिलाओं को भीषण गर्मी से बचाव हेतु फुट स्लीपर व कपड़े उपहार स्वरूप भेंट किया गया।कार्यक्रम मे उपस्थित प्रधान आरक्षक शैलेंद्र कुमार दुबे ने युवाओं की इस पहल को सराहनीय बताते हुए कहा कि माताओं के त्याग व बलिदान की याद मे मातृ दिवस मनाया गया है। मां का दर्जा भगवान से भी ऊंचा है।मातृशक्ति को नमन करते हुए सभी को मदर्स डे की शुभकामनाएं दी उन्होंने कहा कि मां जीवन में सही रास्ते पर चलने में बच्चों का मार्गदर्शन करती हैं हमें हमेशा अपनी मां का सम्मान करना चाहिए।
टीम लीडर हिमांशु तिवारी ने कहा कि माता के समान कोई छाया और सहारा नहीं है।माता का स्थान कोई नहीं ले सकता है। आदमी कितना भी अमीर हो जाए उसे सुविधाएं मिले लेकर मां के बिना सबकुछ बेकार है। माता जननी ही नहीं बल्कि पहली गुरु है। हमें अपने माता-पिता का सम्मान करना चाहिए।ने कहा कि बच्चे की सबसे पहली शिक्षिका उसकी माता होती है। मां की ममता और उसने तथा पिता का अनुशासन ही बच्चों के व्यक्तित्व को विशेष बनाने में एम भूमिका निभाता है। अपने संदेश में कहा कि माताएं पहले शिक्षक होती हैं उनके दिए गए संस्कार जीवन भर काम आते हैं इस दुनिया में मन ही एक मात्र ऐसी इंसान होती है जो हमें कभी अकेला नहीं छोड़ता तथा अपनी जिम्मेदारियां को लगातार बिना रुके और बिना थके निभाती हैं। माता का उदाहरण देते हुए कहा कि मात्र शक्ति ही सृष्टि का आधार है। उन्होंने बताया कि मातृ दिवस कार्यक्रम की तैयारी पूर्व में ही कर ली गई थी। कार्यक्रम पाली थाना में पदस्थ प्रधान आरक्षक शैलेंद्र कुमार दुबे व गोरे विश्वकर्मा के सहयोग से सफल हुआ। इस दौरान प्रधान आरक्षक शैलेंद्र कुमार दुबे, युवा हिमांशु तिवारी,खुशी सेन,सुनील प्रजापति,श्रीराम तिवारी, पारस सिंह परिहार, सत्यम सेन,मोहन कोल,शंकर बैगा,देववती कोल व सभी उपस्थित रहे।

Leave a Comment